कानपुर

कमल संदेश पदयात्रा में भिड़े भाजपाई जमकर चले लात-घूंसे

कानपुर : भाजपा में चरम पर चल रही गुटबाजी ने एक बार फिर पार्टी की छीछालेदर करा दी। संगठन की एकजुटता के संदेश के साथ निकाली जा रही कमल संदेश पदयात्रा के समापन के दौरान कलक्टरगंज में भाजपाई आपस में भिड़ गए। एक प्रदेश स्तरीय पदाधिकारी के सामने जमकर लात-घूंसे चले। कुछ देर बाद फिर दोनों पक्षों में मारपीट हुई। अलग-अलग गुटों की पैरवी में नेता खड़े हो गए। लिहाजा, मामले में क्रॉस मुकदमा दर्ज हुआ है।

कलक्टरगंज में शुक्रवार को निकाली गई कमल संदेश पदयात्र का समापन धनकुट्टी में हुआ। सुबह करीब 11 बजे कार्यकर्ता वहां एकत्रित थे। यहां पार्टी कार्यकर्ता रमेश गुप्ता ने कोई टिप्पणी कर दी। आरोप है कि इस टिप्पणी वहां मौजूद प्रदेश पदाधिकारी पर भी थी। पदाधिकारी के साथ कार में बैठे कुछ कार्यकर्ता उतरे और रमेश गुप्ता से मारपीट कर दी। तुरंत चौकी इंचार्ज पहुंचे और रोका, तब पार्टी के पदाधिकारी भी कार से उतरे और कार्यकर्ताओं को ले गए। थोड़ी देर बाद रमेश गुप्ता का भतीजा एवं भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष दिनेश गुप्ता का बेटा हिमांशु वहां पहुंचा। उसे कुशाग्र खड़ा मिला तो उससे मारपीट कर दी।

इसकी सूचना मिलते ही कुशाग्र के समर्थन में भाजयुमो के पदाधिकारी इकट्ठे होकर कलक्टरगंज थाने पहुंच गए। कुशाग्र के साथी उमाकांत की ओर से तहरीर दी गई कि पदयात्रा समापन के बाद सभी कार्यकर्ता नाश्ता करने खड़े थे। तभी रमेश गुप्ता और हिमांशु आया। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी की। विरोध पर मारपीट की और जान से मारने की धमकी दी। वहीं, रमेश गुप्ता की ओर से तहरीर दी गई कि वे मिठाई की दुकान पर खड़े थे। भाजपा कार्यकर्ता आए और पार्टी फंड के नाम पर जबरन दस हजार रुपये मांगने लगे। न देने पर मारपीट की। रमेश गुप्ता की तहरीर पर चंद्रकांत द्विवेदी, ऋषि तिवारी, रोहित जायसवाल, उमाकांत गुप्ता, कुशाग्र गुप्ता, सौरभ शुक्ला, शिवकुमार मिश्र सहित चार-पांच अज्ञात के खिलाफ, जबकि उमाकांत की तहरीर पर धनकुट्टी निवासी रमेश गुप्ता और हिमांशु के खिलाफ मारपीट, गाली-गलौज, और जान से मारने की धमकी का मुकदमा दर्ज हुआ है।

एससी एसटी एक्ट में मुकदमे को भी तहरीर : उमाकांत पक्ष की तरफ से भाजयुमो महामंत्री अनिल सोनकर ने रमेश और हिमांशु के खिलाफ एससी एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कराने को भी तहरीर दी है। कलक्टरगंज सीओ श्वेता यादव ने बताया कि दोनों ओर से क्रॉस मुकदमा है। एसएसी एसटी एक्ट संबंधी तहरीर को इसमे शामिल कर जांच की जाएगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *