खेल

रोजर फेडरर ने जीता 2019 का सबसे बड़ा मुकाबला

पर्थ: टेनिस जगत की साल 2019 की शुरुआत सबसे बड़े मुकाबले से हुई. टेनिस जग में एक जनवरी 2019 को पहली बार ऐसे दो खिलाड़ी आमने-सामने आए, जिनके नाम कुल 43 सिंगल्स ग्रैंडस्लैम खिताब दर्ज हैं. इन दो दिग्गजों का नाम रोजर फेडरर और सेरेना विलियम्स है.

जी हां, आप सही पढ़ रहे हैं. 1990 के दशक में टेनिस करियर शुरू करने के बावजूद ये दोनों खिलाड़ी पहली बार आमने सामने आए, जिसमें बाजी रोजर फेडरर के हाथ लगी. फेडरर सबसे अधिक ग्रैंडस्लैम जीतने वाले पुरुष खिलाड़ी हैं. जबकि, सेरेना विलियम्स ओपन एरा में सबसे अधिक ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने वाली महिला खिलाड़ी हैं.

रोजर फेडरर और सेरेना विलियम्स के बीच यह मुकाबला होपमैन कप टेनिस टूर्नामेंट के मिक्स्ड इवेंट में हुआ. स्विट्जरलैंड की ओर से रोजर फेडरर ने बेलिंडा बेंकिच की जोड़ी उतरी. अमेरिका ने इनके सामने सेरेना विलियम्स और फ्रांसेस टिफोए की जोड़ी को उतारा. फेडरर-बेलिंडा की जोड़ी ने इस मुकाबले में सेरेना-टिफोए की जोड़ी को 4-2, 4-3 (5-3) से मात दी.

इस मुकाबले से पहले स्विट्जरलैंड और अमेरिका 1-1 की बराबरी पर थे. मिक्स्ड इवेंट में फेडरर-बेलिंडा की जीत के साथ ही स्विट्जरलैंड ने यह मुकाबला 2-1 से अपने नाम कर लिया. यह संभवत: पर्थ में होने वाला आखिरी होपमैन कप था. रोजर फेडरर और सेरेना विलियम्स अब 14 जनवरी से होने वाले साल के पहले ग्रैंडस्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन में उतरेंगे.

रोजर फेडरर ने इस मैच के बाद कहा, ‘मैच शानदार था. मुझे सेरेना के खिलाफ खेलने में बेहद आनंद आया. मुझे बेहद गर्व महसूस हुआ. सेरेना बेहतरीन चैंपियन हैं और आप देख सकते हैं कि वे अपने मैच पर किस प्रकार ध्यान केंद्रित रखती हैं. मुझे उनकी यह बात बेहद पसंद है.’

मैच से पहले फेडरर ने कहा था कि वे दोनों एक दूसरे के बारे में बहुत कम जानते हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं उन्हें (सेरेना) बहुत अच्छी तरह से नहीं जानता. गलियारों में या कैफे में एक दूसरे के पास से गुजरते हुए कुछ अवसरों पर उन्होंने मुझसे पूछा कि बच्चे कैसे हैं और कैसे चल रहा है. फिर भी अगर मैं कहता हूं कि मैं उन्हें बहुत अच्छी तरह से समझता हूं तो यह अतिशंयोक्ति होगी.’

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *