Top News

राजघाट घटना अपडेट: जहर खाने से हुईं सभी मौतें, कर्जदारों ने दिया धोखा, खुद कर्ज नहीं चुका पा रहे थे रमेश गुप्ता

अरविन्द श्रीवास्तव
गोरखपुर: ट्रेन से कटने से नहीं जहर से ही हुई है रमेश गुप्ता की मौत। रचना ने मरने से पहले बयान दे दिया। पूरे परिवार ने जहर खाया था। चौंकाने वाली बात यह है कि इस परिवार से भी बहुत से लोगों ने कर्ज लिया था। वह लोग कर्ज लौटा नहीं पा रहे थे।

बिजनेस के लिए रमेश गुप्ता को भी कई लोगों से कर्ज लेना पड़ा। यानी यह परिवार कर्जदार तो था ही साथ ही इस परिवार से कर्जा लेने वालों ने कर्जा भी नहीं चुकाया था। बकौल रचना पूरे परिवार ने जहर खाया।

व्यापारी परिवार की मौत पर सीएम योगी ने महापौर को फोन कर प्रकट की शोक संवेदना

रमेश को आशंका थी कि शायद जहर का उस पर उतना असर नहीं हुआ है। इसलिए वह रेल से कट कर जान देने के लिए निकल गया। पटरी पर पहुंचते पहुंचते रमेश ने दम तोड़ दिया।

बता दें कि जनपद के राजघाट थाना क्षेत्र में एक ही परिवार के 4 लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। व्यापारी का शव रेलवे ट्रैक पर मिला तो उसकी पत्नी, पुत्र और 2 बेटी का शव घर में पड़ा मिला। फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी हुई है। एक बेटी जो अस्पताल में उपचाराधीन थी उसकी भी मौत हो गयी।

गोरखपुर में एक ही परिवार के चार लोगों की मौत से मचा हड़कंप

इन मौतों की जानकारी मिलने के बाद शहर में सनसनी है। रकाबगंज साहबगंज निवासी व्यापारी रमेश गुप्ता की महेवा ग़ल्ला मण्डी में तिलहन , दलहन की दुकान है। रमेश गुप्ता 58 वर्ष तथा पत्नी सरिता 45 साल पायल गुप्ता बेटी 15, आयूश 10 साल, बेटी रचना गुप्ता 20 साल की है।

मिली जानकारी के अनुसार पहली बीबी की मौत के बाद व्यापारी ने की थी दूसरी शादी। पहली पत्नी से बड़ा पुत्र सुरक्षित है। दूसरी पत्नी से बड़ी पुत्री की इलाज के दौरान मेडिकल कालेज में हुई मौत।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *