आजमगढ़

राज्य मंत्री अनिल राजभर ने ओमप्रकाश राजभर पर साधा निशाना

संजय कुमार तिवारी

बलिया : उत्तर प्रदेश के स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री अनिल राजभर ने एक कार्यक्रम के दौरान मंच से खुलेआम चुनौती देते हुए कहा कि मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव में दम हो, अगर मायावती में हिम्मत हो तो बहराइच की धरती पर जाकर महाराजा सुहेलदेव की मूर्ती पर सम्मान का एक माला पहनाकर दिखा दें। महाराजा सुहेलदेव को एक माला तक नहीं पहना सकते। जो नेता आपके महापुरुष को माला नहीं पहना सकता वो आपका भला कैसे कर सकता है।

उन्होने सरकार में मंत्री ओमप्रकाश राजभर को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उन्होने महाराजा सुहेलदेव राजभर के नाम पर रोटी सेंकने का काम किया है।

जनपद के चितबड़ागांव थाना क्षेत्र के सुजायत में बुधवार को बीजेपी के स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री अनिल राजभर और उपेंद्र तिवारी ने महाराजा सुहेलदेव राजभर के नव निर्माण मूर्ति का अनावरण कार्यक्रम में हिस्सा लिया। उसी मंच से उन्होने तमाम पार्टियो को भी नहीं बक्सा और कहा कि अभी अनिल राजभर को लड़का कहते हैं। माँ-बहनो आपकी सौगंध खाकर कहता हूँ कि अभी एक छोटा ग्रहण लगा हुआ है अब वह ग्रहण आने वाले समय में छट जायेगा। ग्रहण की उमर कितनी होती है।

लखनऊ एयर पोर्ट पर अखिलेश यादव के रोके जाने पर उन्होंने कहा कि उदंडता उन लोगो के स्वभाव में हैं। स्वभाव को हम बदल नहीं सकते। प्रयाग राज काफी सेन्सेटिव है अभी कुछ दिन पहले एक छात्र नेता की हत्या भी हुई थी और बिना परमिशन के उत्तर प्रदेश के कार्यक्रम करने का किसी को अधिकार नहीं है।

ये भी पढ़ें : बीते 20 सालों में इन 11 सीटों पर नहीं खुला है सपा-बसपा का खाता

ये भी पढ़ें : रोज़ डे पर काँग्रेस ने नेहरू पर किया बड़ा खुलासा

ये भी पढ़ें : मायावती अपने नाम से पहले सुश्री शब्द का प्रयोग करती हैं, जानिए सुश्री क्या है ?

ये भी पढ़ें : जानिये ऑनलाइन खसरा खतौनी निकालने का सबसे आसान तरीका

ये भी पढ़ें : योगी आदित्यनाथ के सबसे करीबी ने जेल से छूटते ही दी चेतावनी

ये भी पढ़ें : ये 8 खास बातें जान लीजिये नए सीबीआई चीफ के बारे में

ये भी पढ़ें : World Cancer Day : पढ़िये कैंसर को चकमा देने वाले एक बनारसी युवा की कहानी

ये भी पढ़ें : हरिशंकर तिवारी : 81 के हुए पूर्वांचल की राजनीति के एक ध्रुव, आज भी है युवाओं से ज्यादा रसूख

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *