लखनऊ हेल्थ चौकसी

अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य दिवस पर जानिये डाइ‍टीशियन रानू सिंह से स्वस्थ रहने के उपाय

लखनऊ : अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य दिवस 7 अप्रैल को पूरे विश्व मे मनाया जाता है। विश्व स्वास्थ्य संघठन इसका आयोजन करता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार ऐसी अवस्था जिसमें हम शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ व सक्रिय रहे, साथ ही सामाजिक रूप से भी सक्रिय रहकर अपने कर्तव्यों का निर्वाह कर सके।

इस वर्ष विश्व स्वास्थ्य दिवस 2019 की थीम वैसविक स्वास्थ्य  सभी के लिए सभी जगह आयोजित की गयी है। विश्व स्वास्थ्य दिवस लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना और अच्छे स्वास्थ्य के द्वारा जीवन प्रत्याशा को बढाने के लिए प्रेरित करता हैं।

इस मौके पर हमारी बात हुई डायटीशियन  रानू सिंह से जो कि खुद ग्लोबल न्यूट्रिशन पार्टनरशिप प्रोग्राम की इंडियन रिप्रेजेंटेटिव है।

अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य दिवस के मौके पर रानू ने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य के लिए आपकी यात्रा का प्रथम चरण भोजन से ही शुरु होता है। अच्छे स्वास्थ्य के लिए अच्छा भोजन चुने।

निम्नलिखित सुझाव आपको स्वस्थ विकल्प चुनने में मदद कर सकते है…..

  1. नाश्ता अवश्य करें – एक स्वस्थ नाश्ता संतुलित आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, इसलिए पौष्टिकता से भरपूर नाश्ता नियमित रूप से ले। ताजे फल अंकुरित अनाज अन्डे दलिया दूध को अपने नाश्ते में शामिल करें।
  2. अच्छे स्वास्थ्य के लिए सही तेल को चुनें, तेल या वसा एक आवश्यक पोषक तत्व है। कुछ वसा शरीर के लिये फायदेमंद भी होती है। और हमारे आहार मे इनका होना अति आवश्यक है। वसा ऊर्जा प्रदान करता है। स्वस्थ वसा के मुख्य स्रोत बादाम मूमफली अख़रोट अलसी का बीज मछली का तेल ज़ैतून का तेल आदि है।
  3. हर्ब्स है हैल्थी – हर्ब्स शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़वा देने में मदद करते हैं। इनसे शरीर को ऊर्जा मिलती है और रोग प्रतिरोधक छमता भी मजबूत होती है। आंवला, अदरक, तुलसी, ऐलोवेरा, इलायची, आजवाइन, सौंफ़, ब्राम्ही ये सभी हर्ब्स सेहत बनाये रखने के लिए बहुत आवश्यक है।
  4. पानी खूब पीना चाहिए – पर्याप्त मात्रा मे पानी पीना हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है| हर मौसम में शरीर को हाइड्रेट रखना बहुत जरुरी है। खाना खाने के आधे घंटे पहले और खाना खाने के आधे घंटे के बाद ही पानी पियें।
  5. 5. विटामिन सी का सेवन है जरूरी – विटामिन सी ऐसा पोषक तत्व है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है। विटामिन सी में मौजूद एन्टी ऑक्सीडेंट्स कैंसर और अन्य बीमारिया पैदा करने वाले फ्री रेडिकल्स से बचाता है।

विटामिन सी के मुख्य स्रोत है आवला, नीबू, संतरा, अंगूर, टमाटर, अमरूद, नारंगी अदि इस विटामिन में एन्टी वायरल और एंटी बैक्टीरियल होते हैं।

  1. फाइबर युक्त भोजन करे – फाइबर पाचन क्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। सलाद अंकुरित दाल और फल नियमित रूप से ले साथ ही फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थो में गाजर हरे पत्ते वाली सब्जियां, दलिया, बीन्स, मटर, ब्रोकली, नाशपती, जौ इत्यादि शामिल है। फाइबर हृदय को स्वस्थ रक्त, शर्करा नियंत्रण, वजन प्रबंधन में भी आवश्यक भूमिका निभाता है।
  2. धूप भी है जरूरी – विटमिन डी हड्डियों व जोड़ो की मजबूती और विकास के लिए जरूरी होता है। विटामिन डी के कारण ही हडिडयां कैल्शियम को अवसोसित कर पाती है। इसलिए प्रति दिन 15,-20 मिनट की धूप जरूर लें।

इसके अलावा समय समय पर अपने वजन को मॉनिटर करें, तनाव मुक्त रहे, भरपूर नींद लें, योग का अभ्यास करें और कम से कम वर्ष मे एक बार स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य कराये।

अत्यधिक मसालेदार तली हुई चीजों और प्रसंस्करित खाद्य पदार्थ का प्रयोग न करे और दिनचर्या को व्यवस्थित रखे, संतुलित भोजन स्वास्थ्य और सकारात्मक जीवन शैली के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए ऊर्जा प्रदान करता है।

ये भी पढ़ें : बीते 20 सालों में इन 11 सीटों पर नहीं खुला है सपा-बसपा का खाता

ये भी पढ़ें : रोज़ डे पर काँग्रेस ने नेहरू पर किया बड़ा खुलासा

ये भी पढ़ें : मायावती अपने नाम से पहले सुश्री शब्द का प्रयोग करती हैं, जानिए सुश्री क्या है ?

ये भी पढ़ें : यूपी बजट 2019-20 Live : गोरखपुर, बनारस और सैफई के लिए बड़ी खबर

ये भी पढ़ें : जानिये ऑनलाइन खसरा खतौनी निकालने का सबसे आसान तरीका

ये भी पढ़ें : योगी आदित्यनाथ के सबसे करीबी ने जेल से छूटते ही दी चेतावनी

ये भी पढ़ें : ये 8 खास बातें जान लीजिये नए सीबीआई चीफ के बारे में

ये भी पढ़ें : World Cancer Day : पढ़िये कैंसर को चकमा देने वाले एक बनारसी युवा की कहानी

ये भी पढ़ें : हरिशंकर तिवारी : 81 के हुए पूर्वांचल की राजनीति के एक ध्रुव, आज भी है युवाओं से ज्यादा रसूख

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *