गोरखपुर गोरखपुर मंडल

स्कूल-कॉलेजों की फीस में मिले छूट, बिजली बिल में मिले राहत: पुष्प दन्त जैन

about-us-wel

गोरखपुर (राकेश मिश्रा): व्यापारी कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष पुष्पदन्त जैन ने कहा है बताया की कोरोना काल में आम व्यापारी, जनता कराह रही है। रोजगार-व्यापार सुचारू न होने के चलते लोग आर्थिक संकट में फंसे हुए है। ऐसे में लोगों को स्कूल-कॉलेजों की फीस, बिजली के बिलों में राहत मिलनी चाहिए।

शुक्रवार को व्यापारी कल्याण बोर्ड की एक ऑनलाइन बैठक में श्री जैन ने कहा कि व्यापारियों और उद्यामियों को आसान शर्तो पर लोन और ब्याज में छूट, मंडी परिसर में शुल्क समाप्त करने का निर्णय आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि साहूकारी अधिनियम एवं बांट माप अधिनियम में व्यवहारिक संशोधन, जीएसटी पोर्टल में आवश्यक सुधार, पोर्टल और सर्वर में खराबी से बिलंव पर जुर्माना न लगाया जाए।

बैठक मे निर्णय हुआ कि कोरोना संकटकाल में लॉकडाउन से छोटे व्यापारियों, दुकानदार, मझले कारोबारी बुरी तरह से प्रभावित हुए है। ऐसे में व्यापारियों के
० छात्र-छात्राओं को विभिन्न स्कूल कॉलेजों के माध्यम से स्कूल कॉलेज की फीस मे छूट दिलाने,
० अप्रैल मई-जून महीने के बिजली बिलों में फिक्स चार्ज और मिनिमम चार्ज का समायोजन करने, 40 लाख से 15 करोड़ तक का वार्षिक टर्नओवर कारोबार करने वालों को उनके टर्नओवर का दस प्रतिशत 7.30 परसेंट ब्याज दर ऋण उपलब्ध कराने, ऋण की ब्याज पर 30 से 50 प्रतिशत की छूट प्रदान करनी चाहिए।
० मंडी परिसर में शुल्क को समाप्त करने तथा अन्य वस्तुओं पर 0.5 से एक प्रतिशत तक यूजर चार्ज अथवा विकास शुल्क निर्धारण किया जाए।
० जीएसटी काउंसिल में दो औद्योगिक एवं व्यापारिक प्रतिनिधियों को शामिल किया जाए तथा व्यापारी दुर्घटना बीमा योजना के अंतर्गत कोराना से मृतक हुए पंजीकृत व्यापारी को भी दुर्घटना से मृत्यु मानकर दुर्घटना बीमा योजना का लाभ दिया जाए।
० पंजीकृत व्यापारी का जीएसटी रिफंड तत्काल वापस किया जाए
० व्यापारिक एवं औद्योगिक प्रतिष्ठानों में किसी प्रकार की आपदा आग, जलभराव , प्राकृतिक आपदा अथवा अपराधिक घटनाओं का शिकार होकर लूट, डकैती , राहजनी आदि का शिकार होने वाले व्यापारी उद्यमी के लिए मुख्यमंत्री व्यापारी आपदा राहत कोष की स्थापना की जाए।
० बैठक में 15 महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किए गए बैठक की अध्यक्षता व्यापारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष रविकान्त गर्ग ने तथा संचालन संयोजक सचिव शासन के कृषि उत्पादन आयुक्त एवं अपर मुख्य सचिव राज्य कर आलोक सिन्हा ने किया।

बैठक में बोर्ड के उपाध्यक्ष पुष्पदंत जैन, अशोक गोयल, मनीष गुप्ता सहित बोर्ड के सदस्य दिलीप सेठ, अशोक मोतियानी, सुनील गुप्ता, विश्वनाथ अग्रवाल, हर्ष पाल कपूर, दिनेश सेठी, जवाहर कसौधन, मुरारी लाल अग्रवाल, महेश पुरी, जगदीश कसोंधन, अमरनाथ मिश्रा, पवन अरोड़ा, कमिश्नर वाणिज्यकर आदि ने भी अपने सुझाव रखे। बैठक में शासन के कई अपर मुख्य सचिव एवं प्रमुख सचिव आदि मौजूद रहे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *