गोरखपुर गोरखपुर मंडल

डिग्निटी हॉस्पिटल में वृद्ध की मौत पर हंगामा, लापरवाही का आरोप

about-us-wel

गोरखपुर (ओ पी श्रीवास्तव): राम जानकी नगर क्षेत्र के रामप्रीत चौराहा के अमरनाथ शर्मा की डिग्निटी हॉस्पिटल में मौत हुई। शाहपुर थाना क्षेत्र के बशारतपुर स्थित डिग्निटी हॉस्पिटल में परिजनों ने डॉक्टर पर मौत वृद्ध की मौत का आरोप लगाया।

परिजनों ने 112 नंबर पर फोन कर इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉक्टर व परिजनों का बयान लिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गोरखनाथ थाना क्षेत्र के राम जानकी नगर के रामप्रीत चौराहा स्थित अमरनाथ शर्मा का इलाज कराने उनके परिजन बशारतपुर स्थित डिग्निटी हॉस्पिटल में रविवार को दोपहर में लेकर आए।

परिजनों का आरोप है कि 3 बजे तक कोई भी डॉक्टर मौजूद नहीं था। 3 बजे के बाद अमरनाथ की कोविड-19 की जांच हुई। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए भर्ती किया गया। जहां एक घंटे में ही उनकी मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। उन्होंने 112 नंबर पर फोन कर पुलिस को सूचना दी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों और डॉक्टरों का बयान लिया।

डॉक्टर का कहना है कि मरीज का इलाज किया जा रहा था। तबीयत बिगड़ने की वजह से उनकी मौत हुई है। वहीं परिजनों का कहना है 4 घंटे तक मरीज को रिसेप्शन पर बैठाए रखा गया। इसके बाद भर्ती किया गया। भर्ती करने के एक घण्टे बाद भी डॉक्टर मौजूद नहीं थे।

चौकी प्रभारी शोभनाथ यादव का कहना है कि मृतक के परिजनों के तहरीर के आधार पर जांच की जा रही है डॉक्टर के बयान व मृतक के परिजनों के बयान के आधार पर जांच प्रक्रिया आगे बढ़ाई जाएगी।डॉक्टर का कहना है कि सही तरीके से इलाज किया जा रहा था।

अप्रशिक्षित डॉक्टर कर रहा था इलाज- अमरेन्द्र शर्मा
मृतक के पुत्र अमरेन्द्र शर्मा का कहना है कि डॉक्टर की लापरवाही के चलते ही पिता की मौत हुई है। किसी दूसरे के नाम पर अन्य डॉक्टर इलाज कर रहा था जो प्रशिक्षित नहीं लग रहा था। 4 घंटे से अधिक समय तक रिसेप्शन पर ही मरीज को बैठाए रखा गया। गलत दवा दिए जाने से ही पिता की मौत हुई है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *