वाराणसी वाराणसी मंडल

बीएचयू: हॉस्टल से जबरन बाहर निकालने पर धरने पर बैठे छात्र, छात्रावास में लगा ताला

FIBSOtech

वाराणसी (अभयानन्द त्रिपाठी): एक तरफ आने वाले प्रवासियों की वजह से कोरोना संक्रमण का दायरा बढ़ता जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ बीएचयू प्रशासन ने रूइया छात्रावास के लगभग 15 छात्रों को हॉस्टल से जबरन बाहर निकाल दिया है। लॉकडाउन के दौरान इन छात्रों को कुछ सूझ नहीं रहा कि वे क्‍यों करें।

विश्वविद्यालय के इस रवैये से क्षुब्ध छात्र वीसी लॉज के सामने धरने पर बैठ गए हैं। बीएचयू के पीआरओ डा. राजेश सिंह का कहना है कि कि समर वेकेशन के कारण हॉस्‍टल खाली करवाया जा रहा है। छात्रावास को रेनोवेट कराना है। इसके लिए छात्राें से जबरदस्‍ती नहीं किया जा रहा है।

दूसरी तरफ बिरला छात्रावास के अंतःवासी भी विश्वविद्यालय प्रशासन के निर्णय के विरोध में उतर गया है। बीएचयू स्थित बिरला छात्रावास के अंतःवासियों ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि उन्हें संक्रमण के खतरों के बीच पिछले एक सप्ताह से हॉस्टल खाली करने का दबाव बनाया जा रहा है। बिना छात्रों के राय-मशविरा उन्हें हॉस्टल छोड़ने को मजबूर किया जा रहा है।

एक छात्र ने बताया कि पिछले साठ दिनों से वह छात्रावास में क्वारंटाइन हैं जबकि घर जाते वक्त रास्ते में उन्हें संक्रमण का खतरा बराबर बना रहेगा। इस कारण से उनके गांव पर घर वालों की जिंदगी खतरे में पड़ जाएगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *